15+ जॉन एलिया शायरी इन हिन्दी || john elia best sher shayari and quotes in hindi

Jaun3

जॉन एलिया की शायरी : - आज में आप सभी को अमरोहा में जने एक मसहूर उर्दू शायर जॉन एलिया दुवारा लिखी हुई कुछ शायरियाँ पढ़ाना चाहूँगा। गर इन शायरियों की प्रसिद्धि की हम बाते करें तो ये शायरियाँ पुरे विश्व में बड़े अदब के साथ पढ़ी जाती है। तो इसी को देखते हुए आज में john elia ki shayari and quotes आपके लिये लेकर आया हूँ। 


जॉन एलिया की शायरी || emotional john elia best sher shayari and quotes in hindi

john elia shayari in hindi,मैं ने हर बार तुझ से मिलते वक़्त तुझ से मिलने की आरज़ू की है तेरे जाने के बाद भी मैं ने तेरी ख़ुशबू से गुफ़्तुगू की है - जॉन एलिया

मैं ने हर बार तुझ से मिलते वक़्त
तुझ से मिलने की आरज़ू की है
तेरे जाने के बाद भी मैं ने
तेरी ख़ुशबू से गुफ़्तुगू की है - जॉन एलिया


jaun elia shayari,नहीं दुनिया को जब परवाह हमारी तो फिर दुनिया की परवाह क्यूँ करें हम - जॉन एलिया

नहीं दुनिया को जब परवाह हमारी
तो फिर दुनिया की परवाह क्यूँ करें हम - जॉन एलिया


jaun elia sher shayari in hindi,क्या तकल्लुफ़ करें ये कहने में जो भी ख़ुश है हम उस से जलते हैं - जॉन एलिया

क्या तकल्लुफ़ करें ये कहने में
जो भी ख़ुश है हम उस से जलते हैं - जॉन एलिया


jaun elia sad shayari in hindi,कितने ऐश से रहते होंगे न जाने कितने इतराते होंगे जाने कैसे लोग वो होंगे जो उनको को भाते होंगे - जॉन एलिया

कितने ऐश से रहते होंगे न जाने कितने इतराते होंगे
जाने कैसे लोग वो होंगे जो उनको को भाते होंगे - जॉन एलिया


john elia best shayari in hindi,जिसे गुजारा न जा सकें हम ने वो ज़िंदगी गुज़ारी है। - जॉन एलिया

जिसे गुजारा न जा सकें
हम ने वो ज़िंदगी गुज़ारी है। - जॉन एलिया

>>> यह कुछ बेहतरीन शायरियां - सामाजिक स्टेटस



2 line emotional jaun elia poetry,कैसे कहें कि तुझ को भी हम से है वास्ता कोई तू ने तो हम से आज तक कोई गिला नहीं किया - जॉन एलिया

कैसे कहें कि तुझ को भी हम से है वास्ता कोई
तू ने तो हम से आज तक कोई गिला नहीं किया - जॉन एलिया


jaun elia best lines,कौन से शौक़ किस हवस का नहीं ये दिल है मेरी जान जो तेरे बस का नहीं - जॉन एलिया

कौन से शौक़ किस हवस का नहीं
ये दिल है मेरी जान जो तेरे बस का नहीं - जॉन एलिया


जॉन एलिया शायरी इन हिन्दी ,इक अजब हाल है कि अब उस को याद करना भी बेवफ़ाई है - जॉन एलिया

इक अजब हाल है कि अब उस को
याद करना भी बेवफ़ाई है - जॉन एलिया

यह भी पढ़ें - हँसी पर शायरी 


jaun elia 2 line shayari hindi,में भी बहुत अजीब हूँ इतना अजीब हूँ की बस खुद को तबाह कर लिया और मलाल भी नहीं

में भी बहुत अजीब हूँ इतना अजीब हूँ
की बस खुद को तबाह कर लिया
और मलाल भी नहीं


john elia ki shayari,हम जी रहे हैं कोई बहाना किए बग़ैर उस के बग़ैर उस की तमन्ना किए बग़ैर - जॉन एलिया

हम जी रहे हैं कोई बहाना किए बग़ैर
उस के बग़ैर उस की तमन्ना किए बग़ैर - जॉन एलिया


वो मिले तो ये पूछना है मुझे
अब भी हूँ मैं तिरी अमान में क्या
यूँ जो तकता है आसमान को तू
कोई रहता है आसमान में क्या - जॉन एलिया


ऐ क़ातिलों के शहर बस इतनी ही अर्ज़ है
मैं हूँ न क़त्ल कोई तमाशा किए बग़ैर - जॉन एलिया


दिल कि आते हैं जिस को ध्यान बहुत
ख़ुद भी आता है अपने ध्यान में क्या - जॉन एलिया


उन से वादा तो कर लिया लेकिन
अपनी कम-फ़ुर्सती को भूल गया - जॉन एलिया


last line for john elia best sher shayari in hindi

अगर आप सभी को ये jaun elia ki best hindi shayari and quotes संग्रह पसंद आया है तो अपनी पसंदीदा जॉन एलिया शायरी को कमेंट करें और साथ हिसाथ हमे सपोर्ट करने लिये हमारे फेसबुक और इंस्टग्राम पेज लाइक जरूर करें।  

आप शायद ये भी पढ़ेंगे -

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ

close