80+ धोखा शायरी [प्यार, दोस्ती में अपनों से धोखा] । pyar me apno ka dhokha shayari

धोखा शायरी 2020 [dhokha shayari and quotes]

dokha shayari
dhokha shayari


धोखा शायरी
:- आज में आपको कुछ बेहतरीन प्यार ,दोस्ती और अपनों से जुडी धोखे के ऊपर शायरी बताऊंगा। और इन बेहतरीन dhokha shayari और status के लिए आशा करूँगा के ये आपको पसंद आये। पसंद आयें तो इन्हे आप whatsapp से अपने dost,family और gf को msg या sms कर जरूर शेयर करें। 


दोस्ती , प्यार और अपनों से धोखा शायरी [ pyar,dosti or apno se dhokha shayari,quotes and status]


दोस्ती में धोखा,गद्दारी शायरी और स्टेटस [Dhokebaaz Gaddar dost shayari and quotes]

गद्दार दोस्त शायरी के इस पहलूं में आपको बेहतरीन धोखेबाज दोस्त के ऊपर शायरी मिलेंगी और दोस्ती में धोखा देने वालों को पता चलेगा की उनकी औकात क्या है। तो पढ़िए 10 बढ़िया दोस्त ने धोखा दिया शायरी ->


यारी उनकी जख्मो पर और जख्म दिये जा रही है 
ये तकलीफ और अधिक असहनीय होती जा रही है। 
लगता है ये जान लेना चाह रही है 
पर अपनों की आड़ में ये पीछे से क्यों आ रही है। 

जिसे हम दोस्त वफादार मानते है 
उन्हें लोगो दोस्त गद्दार से जानते है। 

हर चीज बुरी थी उसे दोस्त के आगे 
पर कमबख्त वो भी दगाबाज निकला
पीठ पीछे वार करने वाला धोखेबाज निकला। 

धोखेबाज कई रूपों में आते यह कभी प्यार बनकर तो कभी दोस्त बनाकर 

मुझे उन दोस्तों पर हंसी आती जो बेचारे अपने मतलब के लिए दोस्ती तक कर बैठते है। 

dhokebaaz and Gaddar  shayari

ना जाने कैसे ऐसा वो काम कर जाते है 
धोखेबाजी कर .......  
दोस्ती जैसे पवित्र रिश्ते को भी बदनाम कर जाते है। 

अब तो खुदा भी ये बात मानता है की धोखेबाज दोस्त सिर्फ पीठे पीछे ख़ंजर बोकना जानता है। 

धोखेबाज का कोई रूप नहीं होता क्योंकि वो हर रूप में हमारे साथ रहते है कभी दोस्त बनकर कभी प्यार बनकर तो कभी अपना बनकर। 

सिर्फ अपनेपन का इस्तेमाल करते है
प्रिय दोस्त भी धोखे जैसा कमाल करते है। 

घमंड और धोखे जैसा विशाल कार्य एक गद्दार दोस्त ही कर सकता है। 

यूँ इस तरहा अकेले ही हम सवर जायेंगे 
धोखेबाज दोस्त मत दो भगवान ...... 
वरना उम्र से पहले जीते जी हम मर जायेंगे। 

धोखेबाज दोस्त की छोटी सोच और झूठी हर एक बात होती है 
दोस्ती में धोखा देने वाले की ही इतनी घटिया औकात होती है। 
प्यार नहीं मतलब जानता है बस वो........ 
मानलो यारो उस गद्दार की यहीं सच्ची बात होती है। 

 

दुश्मन न करे दोस्त ने वो काम किया है 
उम्र भर का गम हमें इनाम दिया है। -  अज्ञात 

प्यार में धोखा मिला बेवफा शायरी और स्टेटस [ pyar me dhoka attitude status and shayari ]

सच्चा प्यार करने के बावजूद भी प्यार में धोखा दिया जाता है और प्यार में मिला धोखा अंदर से सब तोड़ मरोड़ के रख देता है पर इसके बावजूद भी प्यार में धोखा देने वालों पर कोई असर नहीं पड़ता। और इस प्यार में धोखा खाई हुई जान किस तरह अपने आपको संभाले ये बस उस को ही मालूम होता है। परन्तु उसे धोखेबाज प्यार के ऊपर हमने कुछ शायरी लिखी है जो आपके व्हाट्सप्प स्टेटस को और भी बढ़िया बना देगी।  



किसी से मोहोब्बत मत करना 
आखिर ये दिल तोड़ ही देती है 
बीच राह में अकेला मरने के लिए 
अधूरा छोड़ ही देती है। 

जिनकी चाहत हमें हमारी साँस से भी ज्यादा जरुरी है 
अक्सर उनका हमसे प्यार करना उनकी एक मज़बूरी है 

धोखा कर एक दिन तुम भी पछताओगे 
खुद को अकेला देख बड़े आंसूऐ बहवोगे 
दुरी से तड़प कर पास आना चाहोगे 
रोओ के बड़ा मगर उस वक्त हमें ना पाओगे। 

ये चाहत भी बड़ी कुती चीज है। 
जिसे ये जानती है ये अक्सर उसी को ही नहीं पहचानती है। 

प्यार किया मगर फिर भी हम अकेले है
क्यूंकि 
चाहतो के इस नगर में केवल धोखेबाजो के मेले है।  

उनसे पूछो तो ज़रा की क्या प्यार का मतलब जानते हो 
या फिर जिंदगी में की हर धोखेबाजी को ही वो एक सच्चा प्यार मानते हो 

जिनको हम अपनी जान मानते है वहीं अक्सर हमें जान से मरते है - अज्ञात 

दिल है की मानता नहीं 
उनकी चाह में इतना अँधा हो गया है की 
अब तो उनके किये हर धोखे को ये बिलकुल भी पहचानता नहीं। 

जिनको आप अपना समझ के रोतें 
वहीं धोखेबाज दूसरों की बाँहों बाहें डाले सोतें है। 

ए - खुदा वफ़ा के बदले बेवफाई ना देना चाहे उसकी बजाय उस वक्त मेरी जान ले लेना। 

2 लाइन धोखा शायरी [pyar me dokha status and shayari]


खुदा ना करे कभी ऐसा काम हो जाये 
 बेवफाई तू करे मगर ........ 
उस बेवफाई में भी मेरा नाम हो जाये। 

गद्दार होतें है वो लोग जो प्यार करने के बाद भी प्यार का मतलब नहीं समझ पाते। 

एक बेवफा से और उम्मीद क्या धोखेबाजी के अलावा। 

उनका प्यार भी बड़ा असरदार था क्यूंकि दिल धोखा खाने के बाद भी उन्ही को अपनी चाहत मान रहा है। 

तेरी दग़ाबाजियों ने ही दिल तोड़ा है 
ये जख्म मेरे लिये असहनीय था 
इसलिए मेने तुझसे मुँह मोड़ा है। 

प्यार में धोखा मिला है पर 
दिवानगी का सितम तो देखो 
दिल फिर भी उनको पाने की चाह रख रहा है। 

धोखे का जिक्र ना किया कर क्यूंकि हर धोख शब्द मुझे उस धोखेबाज की याद दिलाता है। 

मरने का गम ना होता अगर तूने धोखा ना दिया होता। 

कभी सोचा ना था तुम ऐसा भी करोगे 
पर याद रखना ...... 
मुझे धोखा देकर तुम भी चैन से ना मरोगे। 


दुनिया तो जालिम थी मगर 
उनके मासूम चेहरे को देख खुद को जिन्दा रख रखा था
पर वो भी गद्दार धोखेबाज निकला उन्होंने हमसे धोखा कर जीते जी मार दिया।  

अपनों ने दिया धोखा शायरी [apno se dhoka shayari and status]

कुछ अपने अपनों से साजिश कर अपनों से धोखा कर जाते है जिन्हे भुला पाना एक साधरण इंसान के  बस की बात नहीं इसी लिए इन गमो को स्टेटस का रूप देते हुआ आपको अपनों ने दिया धोखा शायरी बताता हूँ। 


उस वक्त को में शुक्रिया कहना चाहता हूँ 
जिसने वक्त रहते मुझे अपनों से रूबरू करवा दिया। 

में धोखा और धोखा करने वालों से घबराता हूँ 
तभी में किसी अपने के ज्यादा करीब नहीं जाता हूँ। 

अपनों के धोखे की शिकायत अब किससे करूं 
याद कर उस धोखे को घुट घुट में मरुँ 
तुम्ही बताओ इस घड़ी क्या में करूँ 
क्या यूँही रो-रो के आँहे में भरूँ। 

ये धोखा मुझे रुलाता है 
अपनों से नफरत को ,और ज्यादा बढ़ाता है 
उन पर किया भरोसा मुझे हसता है 
ना जाने की कितना मेरा चेहरा उन्हें जलता है। 

ये बात अक्सर मुझे खलती है 
ना जाने क्यों अपनों की अपनों से ही जलती है। 

जिन साजिशों ने अब तक मुझे फसाया है 
उन साजिशों में मेने हर वक्त किसी अपने को ही पाया है। 

परेशान जिंदगी अपनों के धोखे का गैरों से उपचार पूछती है। 

याद रखना 
आपनो का ही ख़ंजर एक दिन तुम्हे सुला देगा 
तेरी दासता का हर एक मंजर ...... 
हर विश्वास करने वाले को रुला देगा। 

कुछ रिश्ते अब फिर प्यार से पेश आ रहे है 
लगता है ये अपने फिर धोखा देना चाह रहे है 
आने वाले जख्म अब मुझे डरा रहे है 
क्यूंकि मेरे अपने जो अब मुझे जख्म देना चाह रहे है। 

नफरत की आग में तुम जितना औरों को जलाओगे 
पर देखना तुम खुद ही एक दिन इसमें झुलस जाओगे

रिश्ते और विश्वाश की डोर तोड़ जाते है 
अपने अपनों से भी मुख मोड़ जाते है 
आधे रस्ते में धोखे से छोड़ जाते है 
ऐसे अपने है जो दिल को हजारो टुकड़ो में तोड़ जाते है। 

तारीफ भी कुछ इस तरहा का एक धोखा है 
जिसे सुनने से इस दिल ने मुझे बार-बार रोका है। 

रिश्तों के सारे मंजर चुप चाप देखता हूँ।। 
हाथों में सबके चुप चाप देखता हूँ। - अरिजीत सिंह 

जब अपने ही दिल जलाते है 
तब हम इस तरहा टूट जाते है 
फिर जुड़ ना कभी पाते है  
जब अपने ही जख्म दे जाते है। 

 

अपना तो अपना होता है पर वो विश्वाश्घात ना करे ये हमारे लिए एक सपना होता है। 

 

गैर तो धोखे बाज थे ही अब इस राह में अपने भी चल दिए। 

जब यारी की आड़ में अपने ही धोख दे जाते है तब ये गम के साथ एक तगड़ा जख्म भी छोड़ जाते है। 

बीच रहा में अगर कोई अपना साथ छोड़ देता है 
उसका ये धोखा अपनों का दिल तोड़ देता है। 

अपनों से धोख कर एक दिन बड़ा पछताओगे 
गमों के आसुंओ को आँखों पर लिए देखना 
एक दिन तुम यूँही मर जाओगे। 

जब अपने ही धोखेबाज और बईमान निकल आते है ,तो गैरों पर तो भरोसा ही कितना करना। 

अपनों की धोखेबाजी को देख एक दिन ऐसा काम कर दूंगा 
उस वक्त वो पास आना चाहेंगे फिर भी 
उन धोखेबाजो को बस दूर से ही सलाम कर दूंगा। 

last line for dosti,pyar me dhokha shayari

अगर आपको धोखा शायरी पसंद आयी है तो हमें कॉमेट कर जरूर बताये और अगर प्यार में धोखा ,दोस्ती में धोखा और अपनों से धोखा शायरी जैसे किसी भी टॉपिक से सम्बन्धित और शायरी पढ़ना पसंद करते है तो हमें इंस्टाग्राम और फेसबुक पर जरूर फॉलो करे। 

टिप्पणी पोस्ट करें

टिप्पणियां